WORLD HEALTH ORGANIZATION DISPUTE

WORLD HEALTH ORGANIZATION DISPUTE

        विश्व स्वास्थ्य संगठन विवाद

 

WORLD HEALTH ORGANIZATION DISPUTEविश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) विश्व के देशों के स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं पर आपसी सहयोग एवं मानक विकसित करने की संस्था है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के 194 सदस्य देश तथा दो संबद्ध सदस्य हैं। यह संयुक्त राष्ट्र संघ की एक अनुषांगिक इकाई है। इस संस्था की स्थापना 7 अप्रैल 1948 को की गयी थी। इसका उद्देश्य संसार के लोगो के स्वास्थ्य का स्तर ऊँचा करना है। डब्‍ल्‍यूएचओ का मुख्यालय स्विटजरलैंड के जेनेवा शहर में स्थित है। इथियोपिया के डॉक्टर टैड्रोस ऐडरेनॉम ग़ैबरेयेसस विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक हैं।

 

WORLD HEALTH ORGANIZATION वर्तमान में यह संगठन और इसके महानिदेशक कोरोना वायरस को लेकर विवादों में हैं अमेरिका का कहना है कि इस संगठन ने कोरोना वायरस संबंधित महामारी को समझने में देर की और चीन का साथ दिया अमेरिका ने इस संगठन को दी जाने वाली आर्थिक मदद पर रोक लगा दी है

 

WORLD HEALTH ORGANIZATION DISPUTE

भारत में उपस्थिति: नवम्‍बर 1949 से

भारत के लिए विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के कंट्री कार्यालय का मुख्‍यालय दिल्‍ली में है और देश भर में उसकी (विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन WHO) उपस्थिति है।

स्‍थान: नई दिल्‍ली, भारतTableeg-E-Jamat

फोकस के क्षेत्र: मातृ, नवजात, बाल एवं किशोर स्‍वास्‍थ्‍य, संचारी रोग नियंत्रण; असंचारी रोग एवं स्‍वास्‍थ्‍य के सामाजिक निर्धारक; सार्वभौम स्‍वास्‍थ्‍य सेवा प्रसार; सतत् विकास और स्‍वस्‍थ पर्यावरण; स्‍वास्‍थ्‍य तंत्रों का विकास, स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा और आपातस्थितियां

नोडल मंत्रालय: स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय

प्रमुख प्रकाशन: द वर्ल्‍ड हैल्‍थ रिपोर्ट; वर्ल्‍ड हैल्‍थ स्‍टैटिक्; इंटरनेशनल ट्रैवल एंड हैल्; इंटरनेशनल हैल्‍थ रेगुलेशन; द इंटरनेशनल क्‍लासिफिकेशन ऑफ डिज़ीजेज़; इंटरनेशनल फार्माकोपिया.CORONA – A DANGEROUS ATTACK

0 thoughts on “WORLD HEALTH ORGANIZATION DISPUTE”

Leave a Comment