Water falls in Madhya Pradesh 2020

Rewa Waterfalls: Sirmaur Waterfalls Rewa Madhya Pradesh ...

म.प्र. के प्रमुख जलप्रपात 

Water falls  in Madhya Pradesh

जलप्रपात इसे  झरना और इंग्लिश में Waterfall भी कहा जाता है , जब किसी नदी के  पानी की ऊँची जलधारा पतली होकर चट्टानों से गिरती है वही जलप्रपात या वॉटरफॉल  के रूप में जानी जाती है | इनकी संख्या  दक्षिण भारत में सर्वाधिक है |

मध्य प्रदेश के प्रमुख जलप्रपात निम्न है-

1.  चचाई
2.
केवटी
3.
बहुटी
4.
पूर्वा
5. धुँआधार जलप्रपात

1. चचाई जल-प्रपात [Chachai Fall]:-

चचाई जलप्रपात मध्यप्रदेश का सबसे ऊंचा जलप्रपात हैं । जो रीवा जिले के बीहड़ नदी का स्रोत है जिसकी उंचाई 130 मीटर हैं। यह भारत का 23 वां सबसे बड़ा वॉटर फॉल्स है, जो हमेशा पर्यटकों के लिए आकर्षण का प्रमुख केन्द्र बना रहता हैं । 

चचाई को पछाड़ बहुती बना मध्यप्रदेश ...

2. केवटी जलप्रपात [Keoti falls]:- 

 इस झरने का पानी का मुख्य स्रोत महान नदीं (Mahana River) है जो तमसा की प्रमुख सहायक नदी हैं ।
म.प्र. के प्रमुख जलप्रपात 

3. बहुटी जल-प्रपात [Bahuti falls]:-

यह फॉल्स चचाई और केवटी जल-प्रपात के निकट ही स्थित हैं जो रीवा पठार के ओदा नदीं (Odd river) से गिरता है। ओदा बीहड़ नदीं की सहायक नदीं हैं।

4.पूर्वा जलप्रपात [Purva falls]:-RIVERS OF MADHYA PRADESH THEIR ORIGIN AND MERGE

इस झरने का पानी का स्रोत तमसा और टोंस नदीं है यह झरना 70 मीटर ऊंचाई से अपनी जलधारा के साथ गिरता है।

पुरवा जलप्रपात | जिला रीवा ...5.धुँआधार जलप्रपात [Dhuwadhar Waterfalls] :-  

यह जलप्रपात  म.प्र. के जबलपुर जिले के भेड़ाघाट स्थान पर नर्मदा नदी की जलधारा से बनता हैं। इसकी ऊँचाई 30 मीटर है, जो एक गड़गड़ाहट की ध्वनि के  साथ दूधिया कोहरे या सफेद धुँआ बनाता हैं। संगमरमर चट्टानों (Marble Rocks ) और चौसठ गोगिनी मंदिर के लिए भी यह पर्यटन स्थल प्रसिद्ध हैं। List of Musical Instruments and their Players

Leave a Comment